2011-08-22

Who will LokPal the LokPal?

Digg my article



Sure. What after LokPal?

What is a policeman earning a paltry salary going to tell his son when he asks for a cricket kit?

Corruption has different shades. A politician who already is worth say Rs 1000 crore signing a deal which will make him/her worth Rs 2000 crore is a serious issue. We surely need a redressal mechanism. A corrupt clerk, paid poorly by the government, and  totally driven by needs which operate within his family, cannot be done away with by LokPal. We have individual incentives to be addressed.

Anyone for treating the cause also and not just curing the symptoms?

PS: And who will LokPal the LokPal?

5 comments:

Ritesh said...

“दर्द होता रहा छटपटाते रहे,
आईने॒से सदा चोट खाते रहे,
वो वतन बेचकर मुस्कुराते रहे
हम वतन के लिए॒सिर कटाते रहे”
Support anna hazare Visit: http://annahazare.merabhavishya.in

Mai Anna Hoo said...

Summary of All scams of India : Rs. 910603234300000/-
280 लाख करोड़ का सवाल है …
भारतीय गरीब है लेकिन भारत देश कभी गरीब नहीं रहा”* ये कहना है स्विस बैंक के डाइरेक्टर का. स्विस बैंक के डाइरेक्टर ने यह भी कहा है कि भारत का लगभग 280 लाख करोड़ रुपये उनके स्विस बैंक में जमा है. ये रकम इतनी है कि भारत का आने वाले 30 सालों का बजट बिना टैक्स के बनाया जा सकता है.
या यूँ कहें कि 60 करोड़ रोजगार के अवसर दिए जा सकते है. या यूँ भी कह सकते है कि भारत के किसी भी गाँव से दिल्ली तक 4 लेन रोड बनाया जा सकता है.

ऐसा भी कह सकते है कि 500 से ज्यादा सामाजिक प्रोजेक्ट पूर्ण किये जा सकते है. ये रकम इतनी ज्यादा है कि अगर हर भारतीय को 2000 रुपये हर महीने भी दिए जाये तो 60 साल तक ख़त्म ना हो. यानी भारत को किसी वर्ल्ड बैंक से लोन लेने कि कोई जरुरत नहीं है. जरा सोचिये … हमारे भ्रष्ट राजनेताओं और नोकरशाहों ने कैसे देश को लूटा है और ये लूट का सिलसिला अभी तक 2011 तक जारी है.
इस सिलसिले को अब रोकना बहुत ज्यादा जरूरी हो गया है. अंग्रेजो ने हमारे भारत पर करीब 200 सालो तक राज करके करीब 1 लाख करोड़ रुपये लूटा.
मगर आजादी के केवल 64 सालों में हमारे भ्रष्टाचारियों ने 280 लाख करोड़ लूटा है. एक तरफ 200 साल में 1 लाख करोड़ है और दूसरी तरफ केवल 64 सालों में 280 लाख करोड़ है. यानि हर साल लगभग 4.37 लाख करोड़, या हर महीने करीब 36 हजार करोड़ भारतीय मुद्रा स्विस बैंक में इन भ्रष्ट लोगों द्वारा जमा करवाई गई है.

भारत को किसी वर्ल्ड बैंक के लोन की कोई दरकार नहीं है. सोचो की कितना पैसा हमारे भ्रष्ट राजनेताओं और उच्च अधिकारीयों ने ब्लाक करके रखा हुआ है.

हमे भ्रस्ट राजनेताओं और भ्रष्ट अधिकारीयों के खिलाफ जाने का पूर्ण अधिकार है.हाल ही में हुवे घोटालों का आप सभी को पता ही है – CWG घोटाला, २ जी स्पेक्ट्रुम घोटाला , आदर्श होउसिंग घोटाला … और ना जाने कौन कौन से घोटाले अभी उजागर होने वाले है
Support anna hazare Visit: http://annahazare.merabhavishya.in

buzzingstreet said...

Nice and quite useful blog. Would like to say that stock market hardly gives any second chance. Once opportunity lost means it’s gone forever. Now the biggest question is how to grab trading opportunities every time we trade?
Well here comes the technical analyses handy. Just rely on research rather than your guts feeling and one should stop speculating in the Share market.
Follow few basic trading rules and we are sure one can earn huge amount in the Indian stock market only by trading in NSE and BSE

buzzingstreet said...

It’s a sin to be afraid of doing stock trading in volatile market conditions. Nifty trading offers good trading opportunity in all sorts of stock market conditions. Nifty traders can trade profitably in all market sentiments.

carl can said...

Hey everyone. Interesting idea for a blog. I have been checking out a lot of blogs and forums recently. Some are really informative some are entertaining and some are a real crack up. I've got to admit it, good job on this blog, I'll be sure to look in again real soon. phoenix security systems

2011-08-22

Who will LokPal the LokPal?

Sure. What after LokPal?

What is a policeman earning a paltry salary going to tell his son when he asks for a cricket kit?

Corruption has different shades. A politician who already is worth say Rs 1000 crore signing a deal which will make him/her worth Rs 2000 crore is a serious issue. We surely need a redressal mechanism. A corrupt clerk, paid poorly by the government, and  totally driven by needs which operate within his family, cannot be done away with by LokPal. We have individual incentives to be addressed.

Anyone for treating the cause also and not just curing the symptoms?

PS: And who will LokPal the LokPal?

5 comments:

Ritesh said...

“दर्द होता रहा छटपटाते रहे,
आईने॒से सदा चोट खाते रहे,
वो वतन बेचकर मुस्कुराते रहे
हम वतन के लिए॒सिर कटाते रहे”
Support anna hazare Visit: http://annahazare.merabhavishya.in

Mai Anna Hoo said...

Summary of All scams of India : Rs. 910603234300000/-
280 लाख करोड़ का सवाल है …
भारतीय गरीब है लेकिन भारत देश कभी गरीब नहीं रहा”* ये कहना है स्विस बैंक के डाइरेक्टर का. स्विस बैंक के डाइरेक्टर ने यह भी कहा है कि भारत का लगभग 280 लाख करोड़ रुपये उनके स्विस बैंक में जमा है. ये रकम इतनी है कि भारत का आने वाले 30 सालों का बजट बिना टैक्स के बनाया जा सकता है.
या यूँ कहें कि 60 करोड़ रोजगार के अवसर दिए जा सकते है. या यूँ भी कह सकते है कि भारत के किसी भी गाँव से दिल्ली तक 4 लेन रोड बनाया जा सकता है.

ऐसा भी कह सकते है कि 500 से ज्यादा सामाजिक प्रोजेक्ट पूर्ण किये जा सकते है. ये रकम इतनी ज्यादा है कि अगर हर भारतीय को 2000 रुपये हर महीने भी दिए जाये तो 60 साल तक ख़त्म ना हो. यानी भारत को किसी वर्ल्ड बैंक से लोन लेने कि कोई जरुरत नहीं है. जरा सोचिये … हमारे भ्रष्ट राजनेताओं और नोकरशाहों ने कैसे देश को लूटा है और ये लूट का सिलसिला अभी तक 2011 तक जारी है.
इस सिलसिले को अब रोकना बहुत ज्यादा जरूरी हो गया है. अंग्रेजो ने हमारे भारत पर करीब 200 सालो तक राज करके करीब 1 लाख करोड़ रुपये लूटा.
मगर आजादी के केवल 64 सालों में हमारे भ्रष्टाचारियों ने 280 लाख करोड़ लूटा है. एक तरफ 200 साल में 1 लाख करोड़ है और दूसरी तरफ केवल 64 सालों में 280 लाख करोड़ है. यानि हर साल लगभग 4.37 लाख करोड़, या हर महीने करीब 36 हजार करोड़ भारतीय मुद्रा स्विस बैंक में इन भ्रष्ट लोगों द्वारा जमा करवाई गई है.

भारत को किसी वर्ल्ड बैंक के लोन की कोई दरकार नहीं है. सोचो की कितना पैसा हमारे भ्रष्ट राजनेताओं और उच्च अधिकारीयों ने ब्लाक करके रखा हुआ है.

हमे भ्रस्ट राजनेताओं और भ्रष्ट अधिकारीयों के खिलाफ जाने का पूर्ण अधिकार है.हाल ही में हुवे घोटालों का आप सभी को पता ही है – CWG घोटाला, २ जी स्पेक्ट्रुम घोटाला , आदर्श होउसिंग घोटाला … और ना जाने कौन कौन से घोटाले अभी उजागर होने वाले है
Support anna hazare Visit: http://annahazare.merabhavishya.in

buzzingstreet said...

Nice and quite useful blog. Would like to say that stock market hardly gives any second chance. Once opportunity lost means it’s gone forever. Now the biggest question is how to grab trading opportunities every time we trade?
Well here comes the technical analyses handy. Just rely on research rather than your guts feeling and one should stop speculating in the Share market.
Follow few basic trading rules and we are sure one can earn huge amount in the Indian stock market only by trading in NSE and BSE

buzzingstreet said...

It’s a sin to be afraid of doing stock trading in volatile market conditions. Nifty trading offers good trading opportunity in all sorts of stock market conditions. Nifty traders can trade profitably in all market sentiments.

carl can said...

Hey everyone. Interesting idea for a blog. I have been checking out a lot of blogs and forums recently. Some are really informative some are entertaining and some are a real crack up. I've got to admit it, good job on this blog, I'll be sure to look in again real soon. phoenix security systems